ना जाने क्यू 





 ना जाने क्यू तेरे बिन 

 हर शाम अधुरी लगाती है... 

 ना जाने क्यू हर वक़्त सिर्फ 

 तू ही ज़रूरी लगती है... 

 ना जाने क्यू तेरे साथ 

 हर वक़्त जिया करता हूँ... 

 क्या बताऊं मैं तुझे 

 कैसे आँसू पिया करता हु... 

 ना जाने क्यू तुझसे यूँ दुरी है 

 हर वक़्त मेरे दिल को तू क्यू ज़रूरी है? 

 ना जाने तेरे बिन कैसे जी रहा हूँ 

 तेरे दिए जख्मों को ही सी रहा हूँ... 

 ना जाने अब भी क्यू आस ज़िंदा है 

 तुझे पाने की प्यास अभी ज़िंदा है... 

 ना जाने क्यू आज भी तू याद आती है 

 तेरी याद दिल में घर कर जाती है 

 ना जाने क्यू, ना जाने क्यू...... 



 By : Raas enlightened 

Leave review
Discussion
  • 1 Comment
  • Twinkel Jaiswal 2 months ago

    Sharing is Caring (Like Review Comment)
    © by #Raas ... Sharing to banti hai boss


Oops! Please login or register to add comments
Raas Jewellers

India

₹ 51.00 ₹ 21.00
  • Avoid scams by acting locally or paying with PayPal
  • Never pay with Western Union, Moneygram or other anonymous payment services
  • Don't buy or sell outside of your country. Don't accept cashier cheques from outside your country
  • This site is never involved in any transaction, and does not handle payments, shipping, guarantee transactions, provide escrow services, or offer "buyer protection"